Dil Hai Ke Dhadkta Lyrics in Hindi & English

Song Name : Dil Hai Ke Dhadkta
Album / Movie : Jahan Pyar Mile 1969
Star Cast : Shashi Kapoor, Hema Malini, Nadira
Singer : Mohammed Rafi
Music Director : Jaikishan Dayabhai Panchal, Shankar Singh Raghuvanshi
Lyrics by : Farooq Qaiser
Music Label : Saregama

Dil Hai Ke Dhadkta Lyrics in Hindi

दिल है कि धड़कता रहता है
बेचैन नज़र हो जाती है
जब कोई मोहब्बत करता है
दुनिया को खबर हो जाती है
दिल है कि धड़कता रहता है
बेचैन नज़र हो जाती है
जब कोई मोहब्बत करता है
दुनिया को खबर हो जाती है
दिल है कि धड़कता रहता है

ये नीची नज़र है सब से बुरी
चलती है जिगर पे जैसे छुरी
ये नीची नज़र है सब से बुरी
चलती है जिगर पे जैसे छुरी
कोई लाख मोहब्बत को रोके
ये चीज़ मगर हो जाती है

दिल है कि धड़कता रहता है
बेचैन नज़र हो जाती है
जब कोई मोहब्बत करता है
दुनिया को खबर हो जाती है
दिल है कि धड़कता रहता है

अरमां दिलों का निकले ज़रा
पलकों के लरज़ते परदे उठा
अरमां दिलों का निकले ज़रा
पलकों के लरज़ते परदे उठा
बदनामी का गम अब कौन करे
होने दो अगर हो जाती है

दिल है कि धड़कता रहता है
बेचैन नज़र हो जाती है
जब कोई मोहब्बत करता है
दुनिया को खबर हो जाती है
दिल है कि धड़कता रहता है

नज़रों में वही काबों में
वोही ऐसा न करेगा प्यार कोई
नज़रों में वही काबों में
वोही ऐसा न करेगा प्यार कोई
उस रात का आलम मत पूछो
जो रात बसर हो जाती है

दिल है कि धड़कता रहता है
बेचैन नज़र हो जाती है
जब कोई मोहब्बत करता है
दुनिया को खबर हो जाती है
दिल है कि धड़कता रहता है.

Dil Hai Ke Dhadkta Lyrics in English

Dil hai ki dhadkata rehata hai
Bechain nazar ho jaati hai
Jab koi mohabbat karta hai
Duniya ko kabar ho jaati hai
Dil hai ki dhadkata rehata hai
Bechain nazar ho jaati hai
Jab koi mohabbat karta hai
Duniya ko kabar ho jaati hai
Dil hai ki dhadkata rehata hai

Ye nichi nazar hai sab se buri
Chalati hai jigar pe jaise chhuri
Ye nichi nazar hai sab se buri
Chalati hai jigar pe jaise chhuri
Koi laakh mohabbat ko roke
Ye chiz magar ho jaati hai

Dil hai ki dhadkata rehata hai
Bechain nazar ho jaati hai
Jab koi mohabbat karta hai
Duniya ko kabar ho jaati hai
Dil hai ki dhadkata rehata hai

Aramaan dilon kaa nikale zaraa
Palakon ke larazate parde uthaa
Aramaan dilon kaa nikale zaraa
Palakon ke larazate parde uthaa
Badanaami kaa gam ab kaun kare
Hone do agar ho jaati hai

Dil hai ki dhadkata rehata hai
Bechain nazar ho jaati hai
Jab koi mohabbat karta hai
Duniya ko kabar ho jaati hai
Dil hai ki dhadkata rehata hai

Nazaron mein wohi kaabon mein
Wohi aisa na karega pyaar koi
Nazaron mein wohi kaabon mein
Wohi aisa na karega pyaar koi
Us raat kaa aalam mat puuchho
Jo raat basar ho jaati hai

Dil hai ki dhadkata rehata hai
Bechain nazar ho jaati hai
Jab koi mohabbat karta hai
Duniya ko kabar ho jaati hai
Dil hai ki dhadkata rehata hai.

Leave a Comment