Chand Pal Ke Hamsafar Lyrics in Hindi & English

Song Name : Chand Pal Ke Hamsafar
Album / Movie : Mod 2011
Star Cast : Ayesha Takia, Rannvijay Singh, Raghuvir Yadav
Singer : Shankar Mahadevan, Shreya Ghoshal
Music Director : Tapas Relia
Lyrics by : Mir Ali Husain
Music Label : T-Series

Chand Pal Ke Hamsafar Lyrics in Hindi

अभी अधूरी यह दास्तान थी
अभी तमन्ना भी बेज़ुबान थी
अभी अधूरी यह दास्तान थी
अभी तमन्ना भी बेज़ुबान थी
यह प्यास दिल की बुझि कहाँ थी
यह प्यास दिल की बुझि कहाँ थी

चाँद पल के हमसफ़र
कुछ और साथ चलते
दो कदम ही सही
कुछ और साथ चलते
चाँद पल के..हमसफ़र
कुछ और…साथ चलते

चाँद पल के हमसफ़र
कुछ और साथ चलते
दो कदम ही सही
कुछ और साथ चलते
चाँद पल के..हमसफ़र
कुछ और…साथ चलते

ाद्धि अधूरी यह दास्तान थी
अभी तमन्ना भी
अभी तमन्ना..भी
बेज़ुबान थी बेज़ुबान थी…

है तरसती यह निगाहें
दिल भरता है ाहें
नहीं कोई चाहत जो
लौट आये
जो लौट आये…
तू कैद में है अपनी
मैं भी बाँधी हूँ
टूटे हुए इंसान पे आखिर
इतना सितम क्यों

हक़ था मेरा जिन पर वही
हो…हक़ था मेरा जिन पर वही
खुशियां भी मुझे न मिली

चाँद पल के हमसफ़र
कुछ और साथ चलते
दो कदम ही सही
कुछ और साथ चलते
चाँद पल के..हमसफ़र
कुछ और…साथ चलते

ाद्धि अधूरी यह दास्तान थी
अभी तमन्ना भी बेज़ुबान थी
हो…हो…हो…हो…

खुश्बू तेरे
सांसूं की फ़ैली यहाँ है..
जहाँ चलूँ
तेरा साया है हमदम
पर तू कहाँ है
मंज़िल तोह थी
बस दो कदम
मंज़िल तोह थी
बस दो कदम
वह मोड़ गया है क्यों

चाँद पल के हमसफ़र
कुछ और साथ चलते
दो कदम ही सही
कुछ और साथ चलते
चाँद पल के…हमसफ़र
कुछ और…साथ चलते

ाद्धि अधूरी यह दास्तान थी
अभी तमन्ना भी अभी तमन्ना…
बेज़ुबान थी.

Chand Pal Ke Hamsafar Lyrics in English

Abhi adhoori yeh dastaan thi
Abhi tamanna bhi bezubaan thi
Abhi adhoori yeh dastaan thi
Abhi tamanna bhi bezubaan thi
Yeh pyaas dil ki bujhi kahan thi
Yeh pyaas dil ki bujhi kahan thi

Chand pal ke hamsafar
Kuch aur saath chalte
Do kadam hi sahi
Kuch aur saath chalte
Chand pal ke..hamsafar
Kuch aur…saath chalte

Chand pal ke hamsafar
Kuch aur saath chalte
Do kadam hi sahi
Kuch aur saath chalte
Chand pal ke..hamsafar
Kuch aur…saath chalte

Aaddhi adhoori yeh dastaan thi
Abhi tamanna bhi
Abhi tamanna..bhi
Bezubaan thi bezubaan thi…

Hai tarasti yeh nigaahein
Dil bharta hai aahein
Nahi koi chahat jo
Laut aaye
Jo laut aaye…
Tu kaid mein hai apni
Main bhi bandhi hoon
Tute huye insaan pe aakhir
Itna sitam kyun

Hak tha mera jin par wahi
Ho…hak tha mera jin par wahi
Khushiyaan bhi mujhe na mili

Chand pal ke hamsafar
Kuch aur saath chalte
Do kadam hi sahi
Kuch aur saath chalte
Chand pal ke..hamsafar
Kuch aur…saath chalte

Aaddhi adhoori yeh dastaan thi
Abhi tamanna bhi bezubaan thi
Ho…ho…ho…ho…

Khushboo tere
Sansoon ki faili yahan hai..
Jahan chaloon
Tera saya hai humdum
Par tu kahan hai
Manzil toh thi
Bus do kadam
Manzil toh thi
Bus do kadam
Woh mod gaya hai kyun

Chand pal ke hamsafar
Kuch aur saath chalte
Do kadam hi sahi
Kuch aur saath chalte
Chand pal ke…hamsafar
Kuch aur…saath chalte

Aaddhi adhoori yeh dastaan thi
Abhi tamanna bhi abhi tamanna…
Bezubaan thi.

Leave a Comment