Bachche Kyun Royen Lyrics in Hindi & English

Song Name : Bachche Kyun Royen
Album / Movie : Jawahar 1960
Star Cast : null
Singer : Prabodh Chandra Dey (Manna Dey)
Music Director : Salil Chowdhury
Lyrics by : Prem Dhawan
Music Label : Saregama

Bachche Kyun Royen Lyrics in Hindi

बच्चे क्यूँ रोयें
बच्चों को हंसने दो
बच्चे क्यूँ रोयें
बच्चों को हंसने दो
बच्चे क्यूँ रोयें
नन्हीं कलियाँ हैं ये
कलियों को खिलने दो
बच्चे क्यूँ रोयें
बच्चों को हंसने दो
बच्चे क्यूँ रोयें

माटी में हीरे मिले
इनको उठा लो
राहों में फूल खिले
इनको सजा लो
ो माटी में हीरे मिले
इनको उठा लो
राहों में फूल खिले
इनको सजा लो
अपना समझ कर दिल से लगा लो
बच्चे क्यूँ रोयें
बच्चों को हंसने दो
बच्चे क्यूँ रोयें

यही तो है दौलत अपनी
यही मान अपना
यही तो आने वाले
कल का है सपना
यही तो है दौलत अपनी
यही मान अपना
यही तो है वाले
कल का है सपना
इन के सहारे होगा कल देश अपना
बच्चे क्यूँ रोयें
बच्चों को हंसने दो
बच्चे क्यूँ रोयें

बिगड़े जो रंग कहीं
इन की नज़र के
कांटे न बन जाएँ
फूल उजड के
बिगड़े जो रंग कहीं
इन की नज़र के
कांटे न बन जाएँ
फूल उजड के
इंसान न बन जाए तिनके बिखर के
बच्चे क्यूँ रोयें
बच्चों को हंसने दो
बच्चे क्यूँ रोयें
नन्हीं कलियाँ हैं ये
कलियों को खिलने दो खिलने दो
बच्चे क्यों रोये.

Bachche Kyun Royen Lyrics in English

Bachche kyun royen
Bachchon ko hansne do
Bachche kyun royen
Bachchon ko hansne do
Bachche kyun royen
Nanhi kaliyaan hain ye
Kaliyon ko khilne do
Bachche kyun royen
Bachchon ko hansne do
Bachche kyun royen

Maati mein heerey miley
Inko utthhaa lo
Raahon mein phool khiley
Inko sajaa lo
O maati mein heerey miley
Inko utthhaa lo
Raahon mein phool khiley
Inko sajaa lo
Apna samajh kar dil se lagaa lo
Bachche kyun royen
Bachchon ko hansne do
Bachche kyun royen

Yahi to hai daulat apni
Yahi maan apna
Yahi to aane waale
Kal ka hai sapnaa
Yahi to hai daulat apni
Yahi maan apna
Yahi to hai waale
Kal ka hai sapnaa
In ke sahaare hogaa kal desh apnaa
Bachche kyun royen
Bachchon ko hansne do
Bachche kyun royen

Bigde jo rang kahin
In ki nazar ke
Kaante na ban jaayen
Phool ujad ke
Bigde jo rang kahin
In ki nazar ke
Kaante na ban jaayen
Phool ujad ke
Insaan na ban jaaye tinke bikhar ke
Bachche kyun royen
Bachchon ko hansne do
Bachche kyun royen
Nanhi kaliyaan hain ye
Kaliyon ko khilne do khilne do
Bachche kyun roye.

Leave a Comment